boat

जिनकी आँखें आँसुओं से नम नहीं; क्या समझते हो कि उन्हें कोई ग़म नहीं; तुम तड़प कर रो दिए तो क्या हुआ; ग़म छुपा कर हँसने वाले भी कम नहीं।

hindi and other

April 8th 2015, 11:20 am
0 comments
Write a comment
boat