boat

"लम्हे जुदाई को बेकरार करते हैं हालत मेरे मुझे लाचार करते हैं आँखे मेरी पढ़ लो कभी हम खुद कैसे कहे की आपसे प्यार करते हैं" I love you good morning

hindi and other

January 11th 2015, 10:26 pm
0 comments
Write a comment
boat